Project description Choose a text from the list Meet LiTgloss participants Help
Main text Read some basic information For further reading
  "Rituon Mein," by Mahadevi Varma
annotated by Maykala Hariharan and Aditya Sachan

स्वप्न से किसने जगाया?
मैं सुरभि हूं।

छोड कोमल फूल का घर,
ढूंढती हूं निर्झर।
पूछती हूं नभ धरा से-
क्या नहीं र्त्रतुराज आया?

ंमैं र्त्रतुओं में न्यारा वसंत,
मैं अग-जग का प्यारा वसंत।

मेरी पगध्वनी सुन जग जागा,
कण-कण ने छवि मधुरस मांगा।

नव जीवन का संगीत बहा,
पुलकों से भर आया दिगंत।

मेरी स्वप्नों की निधि अनंत,
मैं र्त्रतुओं में न्यारा वसंत।